divisons agriculture economicsडॉ. अमित कर
अध्यक्ष

फोन : 011-25847501, 25842951
फैक्स : 011-25846420, 25847501
ई मेल : head_eco[at]iari[dot]res[dot]in, spl[at]iari[dot]res[dot]in

 

कृषि अर्थशास्‍त्र में अनुसंधान व शिक्षा के पचास वर्ष (नवीन)

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्‍थान (IARI) के सामाजिक विज्ञान के एक घटक कृषि अर्थशास्‍त्र संभाग की स्‍थापना वर्ष 1960 में की गई। अपनी स्‍थापना से ही संभाग द्वारा कृषि नीतियों के लिए उल्‍लेखनीय निहितार्थ के साथ मूलभूत एवं अनुप्रयुक्‍त अनुसंधान में अपना योगदान दिया जा रहा है। मानव संसाधन विकास हेतु संकाय विनिमय कार्यक्रम के माध्‍यम से एक भा.कृ.अनु.प.-यू.एन.डी.पी. उत्‍कृष्‍टता केन्‍द्र के रूप में और बुनियादी सुविधाओं के सुदृढीकरण के लिए संभाग द्वारा स्‍नातकोत्‍तर शिक्षा व अनुसंधान में उत्‍कृष्‍टता  हासिल की गई है । वर्ष 1995 से ही यह संभाग राष्‍ट्रीय प्रणाली में कृषि अर्थशास्‍त्र और नीतिगत अनुसंधान के लिए क्षमता सुदृढीकरण के साथ कृषि अर्थशास्‍त्र में भाकृअनुप. के प्रगत अध्‍ययन केन्‍द्र के रूप में कार्य कर रहा है। संभाग द्वारा भारत एवं विदेश के बडी संख्‍या में स्‍नातकोत्‍तर छात्र छात्राओं को प्रशिक्षित किया गया है और संभाग के एल्‍युमिनी राष्‍ट्रीय और अंतर्राष्‍ट्रीय संगठनों में उच्‍च प्रतिष्‍ठा वाले अर्थशास्‍त्री के रूप में कार्य कर रहे हैं।

संभाग के अनुसंधान का केन्‍द्र बिन्‍दु  मुख्‍यत: बढती चुनौतियों का समाधान करने की दिशा में उन्‍मुख बना रहता है। साठ के दशक में, संभाग के अनुसंधान का मुख्‍य केन्‍द्र बिन्‍दु  फार्म व्‍यवसाय विश्‍लेषण, संसाधनों के प्रभावी आवंटन, आपूर्ति प्रतिक्रिया, निवेश मांग विश्‍लेषण और विपणन दक्षता पर था। हरित क्रान्ति की चुनौतियों और अवसरों का मुकाबला करने के लिए उन्‍नीस सौ सत्‍तर व अस्‍सी के दशक में संभाग द्वारा पूंजी निर्माण, श्रम रोजगार, फार्म का यांत्रिकीकरण, ग्रामीण ऋण  जरूरतों, उपज रिक्‍तता  विश्‍लेषण, मूल्‍य नीति व अनुदान मामलों, तथा प्राकृतिक संसाधनों के प्रभावी प्रबंधन पर ध्‍यान केन्द्रित किया गया। नब्‍बे के दशक में राष्‍ट्रीय खा्द्य तथा पोषणिक सुरक्षा, प्रभावी एवं सतत कृषि उत्‍पादन प्रणालियां, गरीबी उन्‍मूलन, अनुसंधान प्रभाव आकलन व प्राथमिकता सेटिंग, कृषि उत्‍पादों की निर्यात क्षमता आदि को उच्‍च प्राथमिकता दी गई। इन अनुसंधान कार्यक्रमों पर लगातार बल देते हुए अभी हालिया अतीत में खाद्य मांग तथा आपूर्ति परिदृश्‍य, विश्‍व व्‍यापार संगठन विनियमों का प्रभाव, खाद्य सुरक्षा जरूरतों, बाजार सूचना प्रणाली, परि नगरीय कृषि आदि विषयों पर अनुसंधान प्रयास किए गए हैं।

कृषि अर्थशास्‍त्र संभाग

स्‍वर्ण जयंती स्‍थापना दिवस व्‍याख्‍यान

    स्‍वर्ण जयंती सेमिनार

विजन

  • रणनीतिपरक नीतिगत अनुसंधान एवं मानव क्षमता विकास के माध्‍यम से जानकारी से ओत-प्रोत सघन कृषि