राष्‍ट्रीय कृषि नवोन्‍मेष परियोजना (एनएआईपी)

परियोजना का नाम

प्रधान अन्‍वेषक

स्‍थान/संभाग

अवधि

समग्र कृषि विकास के लिए नीतियां एवं संस्‍थागत विकल्‍प

डॉ. सुरेश पाल

कृषि अर्थशास्‍त्र

2009-2012

दृष्टि, नीति विश्‍लेषण एवं लिंग

डॉ. प्रेमलता सिंह

कृषि प्रसार

2007-2012

समेकित फार्मिंग प्रणाली और प्रौद्योगिकी मॉडलों के माध्‍यम से आदिम जाति बहुल क्षेत्रों की आजीविका एवं पोषणिक सुरक्षा (घटक-3)

डॉ. जे.पी. शर्मा

कटैट

2007-2012

कृषि में ई-संसाधनों के लिए कन्‍सोर्टियम की स्‍थापना - घटक-1 (ओ व एम)

डॉ. एच. चन्‍द्रशेखरन्

यू.एस.आई;

2007-2012

घटक-4 के अन्‍तर्गत आरएनएआई का उपयोग करके पादप-सूत्रकृमि अन्‍तर‍ क्रियाओं को समझना

डॉ. अनिल सिरोही

सूत्रकृमि विज्ञान

2008-2012

कन्‍सोर्टियम मोड में परिचालित होने वाले गैर-विशिष्‍ट रोग प्रतिरोध वाली प्रजाति के विकास के लिए चावल-प्रध्‍वंस रोग प्रणाली में प्रतिरोध तथा गैर-विषाण्विक जीन की विशेषक माइनिंग व अभिव्‍यक्ति प्रोफाइलिंग

डॉ. ए.के. सिंह

आनुवंशिकी संभाग

2008-2012

कन्‍सोर्टियम मोड में परिचालित होने वाले आम के सूक्ष्‍म जैविक व कार्यिकीय-रसायन विज्ञानी गुणवत्‍ता प्राचलों के मूल्‍यांकन हेतु गैर-विनष्‍टकारी प्रणालियों का विकास

डॉ. अभिजीत कर

कटाई उपरांत प्रौद्योगिकी

 

भारतीय कृषि अनुसंधान के लिए एग्रोवेब-डिजीटल विसरण प्रणाली

डॉ. एच. चन्‍द्रशेखरन्

यू.एस.आई.

2008-2010

पादप विषाणु के आण्विक निदान के लिए नवीन कार्यनीतियां

डॉ. बिशाख मण्‍डल

पादप रोगविज्ञान

2008-2012

स्‍वच्‍छ सब्जियों के लिए जैव-नाशकजीवनाशी मध्यित मूल्‍य श्रृंखला

डॉ. सुरेश वालिया

कृषि रसायन

2008-2010

कृषि टिप्‍पणियों के लिए निर्णय सहायक प्रणाली का विकास - बाजारी दृष्टिकोण

डॉ. वी.सी. माथुर

कृषि अर्थशास्‍त्र

2008-2012

कीटरोगजनक सूत्रकृमियों के बीच अन्‍तर क्रियाओं की प्रकृति, उनके जीवाण्विक सहजीवी और कीट पोषक

डॉ. सुदर्शन गांगुली

सूत्रकृमि विज्ञान

2009-2012

कठिन पर्यावरण में बेसीलस तथा अन्‍य प्रमुख गणों का विविधता विश्‍लेषण और कन्‍सोर्टियम मोड में परिचालित होने की दृष्टि से कृषि में उसका उपयोग

डॉ. जी.टी. गुजर

कीटविज्ञान

2009-2012

उत्‍पादन खपत प्रणाली के अन्‍तर्गत परिचालित होने के लिए प्राकृतिक एंटीऑक्‍सीडेन्‍टों व खाद्य रंजकों के रूप में उपयोग के लिए खाद्य श्रेणी के न्‍यूट्रासेटिकल के उत्‍पादन पर मूल्‍य श्रृंखला

डॉ. सुरेश वालिया

कृषि रसायन

2009-2012

उच्‍च मूल्‍य वाली सब्जियों व कर्तित पुष्‍पों की संरक्षित कृषि-उत्‍पादन खपत प्रणाली के अन्‍तर्गत परिचालित होने के लिए एक मूल्‍य श्रृंखला दृष्टिकोण

डॉ. बलराज सिंह

सी.पी.सी.टी.

2009-2012

कन्‍सोर्टियम मोड में परिचालित होने के लिए गैर-नाशकजीवनाशियों की क्रिया की विधि व जैव-सुरक्षा का अध्‍ययन व उसकी डिज़ाइनिंग

डॉ. मधुबन गोपाल

कृषि रसायन

2009-2012

भारत में सफेद मक्‍खी बेमीसिया टेबेकी के हेतु विज्ञान व वर्गीकरण विज्ञान पर अध्‍ययन, विभिन्‍न पराश्रयों के साथ सहजीवन तथा कन्‍सोर्टियम मोड के अन्‍तर्गत परिचालित होने के लिए फैकलटेटिव जीवाण्विक सहजीवी

डॉ. बी. सुब्रामणियम

कीटविज्ञान

2009-2012

राइस नॉलेज मेनेजमेंट पोर्टल का विकास व रखरखाव

डॉ. पी.एस. पाण्‍डेय

यू.एस.आई.

2009-2012

सुदूर संवेदन, मॉडलिंग तथा जीआईएस का उपयोग करके सिंचित लवणीय पर्यावरण में उत्‍पादकता बढ़ाने के लिए निर्णय समर्थित प्रणाली

डॉ. ए. सारंगी

जल प्रौद्योगिकी केन्‍द्र

2009-2012

अजैविक प्रतिबल सहिष्‍णुता के लिए जीनों की बायोप्रॉसपेक्टिंग तथा एलेल माइनिंग

डॉ. ए.के. सिंह

 

2009-2012

नार्स (ई-ग्रन्‍थ) के अन्‍तर्गत डिजीटल पुस्‍तकाल तथा सूचना प्रबंध का सबलीकरण

डॉ. ए.के. जैन

कृषि भौतिकी

2009-2012

मेवात में संसाधन संरक्षण और विविधीकृत फार्मिंग प्रणाली दृष्टिकोण के माध्‍यम से उन्‍नत आजीविका सुरक्षा प्राप्‍त करना

डॉ. राजवीर शर्मा

सस्‍यविज्ञान

2009-2012

संवेदनशील क्षेत्रों में जलवायु परिवर्तन की स्थिति में अनुकूलन क्षमता बढ़ाने हेतु कार्य नीतियां

डॉ. एस.के. बंदोपाध्‍याय

पर्यावरण विज्ञान

2009-2013

आंचलिक प्रौद्योगिकी प्रबंध व्‍यापार नियोजन व विकास इकाई, भा.कृ.अ.सं.

डॉ. प्रमोद कुमार

कृषि अर्थशास्‍त्र

2009-2012